HomeभारतBihar: फ्लोर टेस्ट से 24 ठिकानों पर CBI की...

Bihar: फ्लोर टेस्ट से 24 ठिकानों पर CBI की रेड, RJD के 4 नेताओं पर गिरी गाज, एक्शन मोड़ में आई ED

जॉब के बदले जमीन के मामले में कार्रवाई करते हुए देश की केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) ने बिहार के 24 ठिकानों पर छापेमारी की है। CBI ने आरजेडी MLC सुनील सिंह, RJD के पूर्व MLC सुबोध रॉय, राज्यसभा सांसद फैयाज अहमद और अशफाक करीम सहित कई नेताओं के घर पर छापा मारा है। 

बुधवार को बिहार में विधानसभा फ्लोर टेस्ट होने से पहले CBI ने यह कार्रवाई की है। ऐसे में  RJD नेता सुनिल सिंह ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, भाजपा जनबूझकर केंद्रीय जांच एजेंसी का गलत इस्तेमाल कर रही है। भाजपा चाहती है कि उनके छापेमारी के डर से  RJD छोड़कर सभी विधायक उनके पक्ष में आ जाएं। 

RJD के बयान पर BJP का पलटवार 

RJD के बयान पर बिहार भाजपा के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने पलटवार किया। संजय ने कहा की भाजपा कभी भी किसी को नहीं फंसाने का काम नहीं करती है। आपको याद दिला दें कि आज से करीब डेढ़ साल पहले सुख नीतीश कुमार ने शिकायत की थी। इस समय भी बिस्कोमान में करोडों रुपये पकड़े गए थे। इस समय बिहार सरकार ने भी इस पर कार्रवाई की थी क्योंकि इस समय करोड़ो रुपये से भरी गाड़ी पकडी गई थी। अब इस सब की जो परिणीती होती है बस वहीं हो रही है। 

हम बिकाऊ नहीं हैं – मनोज झा

बिहार में हुई सीबीआई की कार्रवाई पर RJD सांसद मनोज झा का कहना है कि बिहार विधानसभा के फ्लोर टेस्ट से पहले यह कार्रवाई हुई है। भाजपा हमारें सांसदों और नेताओं को डराना चाहती है। इसे हम सीबीआई की रेड नहीं बल्कि भाजपा की रेड भी कह सकते है। यह जांच एजेंसी केंद्र सरकार के लिए काम कर रही है। 

लेकिन भाजपा की इस कार्रवाई से हम ड़रने वाले नही है। हम सच्चे बिहारी है। हम ना तो बिकाऊं है, और ना हि हम डरने वाले हैं।

जानें किस घोटाले में हुई CBI की रेड

बता दें की सीबीआई ने यह कार्रवाई बिहार में हुए भर्ती घोटाले में की है। बिहार के पूर्व मंत्री लालू प्रसाद यादव पर आरोप है कि उन्होंने रेल मंत्री (2004-2009) होते हुए लोगों को जॉब लगवाने के बदले प्लॉट और जमीन दिए थे। इस मामले में सीबीआई ने लालू यादव मीसा यादव, राबड़ी देवी समेत कई नेताओं पर केस दर्ज किया था। इन में कई ऐसे उम्मीदवारों पर भी केस दर्ज किया गया था जिन्हें उस समय प्रॉपर्टी के बदले जॉब दी गई थी। 

मई में सीबीआई ने लालू यादव के 17 ठिकानों पर छापा मारा था, यह कार्रवाई 14 घंटे तक चली थी। इस मामले में सीबीआई ने लालू यादव के पूर्व ओएसडी भोला यादव को गिरफ्तार किया था। 

बिहार से लेकर झारखंड तक फैला ईडी का खौफ 

बिहार में सीबीआई के छापो के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) भी एक्शन मोड़ में आ गई है। इस समय कई राज्यों में ED सतर्क होती दिख रही है। अवैध खनन और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में ED ने अब तक बिहार, झारखंड, दिल्ली और तमिलनाडु के करीब 17-20 ठिकानों पर छापे मारे है। 

हाल ही में ED ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के यहां छापेमारी की, इसके अवाला बच्चू यादव के यहां भी ED की कार्रवाई हुई। बताया जा रहा है कि कुछ समय पहले ED ने दोनों व्यक्तियों को गिरफ्तार भी किया था। 

Latest Posts