Homeराजनीतिबिहार के सीएम नीतीश कुमार केंद्र सरकार पर भड़के,...

बिहार के सीएम नीतीश कुमार केंद्र सरकार पर भड़के, कहा- बिहार के विकास के लिए मोदी सरकार बन रही है रोड़ा 

कल तक जो एक दूसरे की तारीफ़ करते नही थक रहे थे आज व्ही एक दूसरे पर जमकर बरस रहे है। इसी को तो राजनीतिक दांव-पेंच कहा जाता है जहाँ पल भर में कुछ भी हो सकता हैं। बिहार में नीतीश कुमार दुबारा सीएम बनें और उनकी इस उपलब्धि का कारण मोदी सरकार थी क्योंकि नीतीश और एनडीए ने मिलकर चुनाव लड़ा था। साल 2022 तक ये गठबंधन चला और फिर दोनों पार्टियां अलग होगयी और सीएम नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव का साथ देते हुए बिहार महागठबंधन की सरकार बना ली। नीतीश कुमार पाला बदलने में काफी एक्सपर्ट है और जब से उन्होंने बीजेपी का साथ छोड़ा है वो लगातार केंद्र सरकार पर हमला बोल रहे हैं। बिहार के विकास को लेकर बिहार के सीएम ने बुधवार को केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार गरीब राज्यों पर ध्यान नहीं देती है। देश की केंद्र सरकार को सबसे पहले पिछड़े राज्यों को सपोर्ट करना चाहिए लेकिन मोदी सरकार तो कर्जा लेने तक रोक दी है।

नीतीश ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, बिहार के विकास के लिए केंद्र से मांग की तो पर वहां से कोई मदद नहीं मिल रही है। यही वजह है कि बिहार का विकास नहीं हो पा रहा है। केंद्र सरकार बिहार की जनता के विकास के लिए रोड़ा बन रही है और इतना हकस्तक्षेप आज तक किसी भी सरकार ने नही किया जितना कि मोदी सरकार बिहार के कामकाज को लेकर करती है। बिहार पर उनका फोकस न तब था जब हम एनडीए में थे और न अब है, केंद्र सरकार तो बस प्रचार-प्रसार पर ध्यान देती है।

रेल बजट पर भी बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि अटल बिहार वाजपेयी की सरकार जब थी तब रेल बजट पर खुलकर चर्चा भी होती थी और आज भी उनकी कई योजनाएं देश के विभिन्न राज्यों में चल रही है। लेकिन बिहार इससे आज भी वंचित है। नीतीश कुमार की अगर हम बात करें तो, उनका स्टेटमेंट मोदी सरकार के खिलाफ पिछले 1 साल से जारी है। 2024 में लोकसभा चुनाव सभी पार्टियो के लिए काफी महत्वपूर्ण है और नीतीश इसमें अपना राजनीतिक महत्व ढूंढने में लगे हुए है।

Latest Posts