Homeअध्यात्मउत्तर प्रदेश: काशी- तमिल समागम कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे...

उत्तर प्रदेश: काशी- तमिल समागम कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वाराणसी के काशी हिंदू विश्वविद्यालय में एक महीने तक चलने वाले काशी- तमिल समागम का उद्घाटन करेंगे। यह आयोजन ज्ञान के सदियों पुराने बंधन और उत्तर और दक्षिण के बीच प्राचीन सभ्यतागत जुड़ाव को फिर से खोजने का मार्ग प्रशस्त करेगा।

Source- DNP India

राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पवित्र शहर वाराणसी में ‘काशी- तमिल समागम’ का भव्य आयोजन करने और द्रविड़ संस्कृति के साथ-साथ तमिल संस्कृति, व्यंजन और संगीत की झलक दिखाने के लिए पूरी तैयारी कर ली है।

रामेश्वर (तमिलनाडु में स्थान) की धरती से आने वाले अतिथियों के स्वागत के लिए बाबा विश्वनाथ की धरती को सजाया गया है। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर समेत वाराणसी के घाटों पर साज-सज्जा और तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है।

इस कार्यक्रम में पीएम मोदी शामिल होने के लिए बेहद उत्साहित हैं। उन्होंने दौरे से पहले की संध्या को वाराणसी और तमिलनाडु की संस्कृति का मिश्रित वीडियो ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा, “यह एक ऐसा भव्य और ऐतिहासिक अवसर होगा, जिसमें भारत के सांस्कृतिक जुड़ाव और तमिल भाषा की सुंदरता का अद्भुत संगम देखने को मिलेगा।”

इस ट्वीट की खास बात यह कि उन्होंने इसे हिंदी के साथ साथ तमिल भाषा में भी लिखा।

उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु की संस्कृति को एक दूसरे की प्रति सम्मान देने के लिए लोग यहां पारंपरिक अभिवादन ‘हर हर महादेव’ के साथ-साथ तमिल में ‘वणक्कम’ (नमस्ते) संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान पीएम मोदी पुस्तकों का भी विमोचन करेंगे।

Source- Firstpost

पीएम तमिलनाडु में मठ मंदिरों के आदिनम (एबोट्स) का सम्मान करेंगे और उनका आशीर्वाद लेंगे। प्रधानमंत्री के तमिलनाडु के 200 से अधिक छात्रों के साथ बातचीत करने की भी संभावना है।

19 नवंबर से 16 दिसंबर तक चलने वाले काशी- तमिल संगम में कुल 75 स्टॉल लगाए गए हैं, जो कृषि, संस्कृति, साहित्य, संगीत, भोजन, हथकरघा और हस्तकला, ​​लोक कला के माध्यम से दक्षिण भारत और उत्तर भारत के बीच सेतु का काम करेंगे।

इन उत्पादों में तमिलनाडु के जीआई (Geographical Index) और ओडीओपी (One District One Product) उत्पाद भी शामिल हैं। काशी के कुछ कारीगर भी जीआई उत्पादों का प्रदर्शन करेंगे।

Source- Times of India

काशी तमिल संगम का आयोजन शिक्षा मंत्रालय द्वारा संस्कृति, कपड़ा, रेलवे, पर्यटन, खाद्य प्रसंस्करण, सूचना और प्रसारण जैसे अन्य मंत्रालयों और उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग से वाराणसी में किया जा रहा है।

शिक्षा मंत्रालय ने कहा, “वे (कार्यक्रम में शामिल होने वाले प्रतिनिधि) एक ही व्यापार, पेशे और रुचि के स्थानीय लोगों के साथ बातचीत करने के लिए 12 श्रेणियों में से प्रत्येक के लिए विशेष कार्यक्रमों में संगोष्ठियों, एलईसी-डीईएमएस (व्याख्यान प्रदर्शन), साइट के दौरे आदि में भाग लेंगे।”

इससे पहले 200 छात्रों के प्रतिनिधियों के पहले समूह ने 17 नवंबर को चेन्नई से अपने दौरे की शुरुआत की। उनकी ट्रेन को तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि ने चेन्नई रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखाई।

Source- Twitter

प्रधानमंत्री उद्घाटन समारोह में आधे वाले तमिलनाडु के छात्रों के प्रतिनिधियों से मुलाकात भी करेंगे। वह तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश की संस्कृति पर प्रकाश डालते हुए जनता को इसके महत्व भी बताएंगे।

Shraddha
Shraddha
Journalist, Writer, a history buff with a spiritual mind.

Latest Posts